Ad Code

Ticker

6/recent/ticker-posts

अवचेतन मन को एक्टिवेट कैसे करें ?

अवचेतन मन को एक्टिवेट कैसे करें 

subconscious mind Power


Subconscious mind. हमारे जीवन में सुख - दुःख, आशा निराशा, गरीबी - अमीरी, भय - निर्भय इत्यादि इन सबके पीछे एक ही शक्ति कार्य करती है और वो है अवचेतन मन यानी Subconscious mind. जैसा आप सोचते है वैसा हो जाता है ।

  subconscious mind Power एक गूढ़ रहस्यों में से एक है जितना लिखो उतना कम है । ईश ने मनुष्य के भीतर सभी शक्तियों का समावेश कर दिया लेकिन उन शक्तियों को, उन Power को Activate करना उतना आसान नहीं होता है । जितना हम समझते है । उन में से एक है subconscious mind Power. अवचेतन मन की शक्ति । 

यदि आपके अवचेतन मन की शक्ति Activate हो जाती है तो Subconscious mind Power बेहतर तरीके से work करेगा । इनके चमत्कारी परिणाम प्राप्त होंगे । subconscious के बारे में जानने से पहले चेतन मन यानी Conscious  को भी समझना होगा । जो कार्य हम सोच समझकर करते है तो उसे चेतन मन कहा जाता है । 

और जो कार्य स्वत् हो जाता है जैसे वाहन चलाते समय आप फोन पर बात करते हुए समय गियर लगाना, स्पीड ब्रेकर का ध्यान रखना Subconscious mind power का हिस्सा है । Achetan man ko kaise jagaye -

◆ Anahad naad mediation क्या है ? अनाहद नाद से दिव्य आवाज कैसे सुने

अवचेतन मन क्या है ? What is subconscious mind ?

हमारे माइंड के दो भाग होते है एक चेतन मन ( Conscious mind ) दूसरा अवचेतन मन ( Subconscious mind ) । इंसान अपने पूरे जीवन काल में अपने माइंड का कुछ ही हिस्सा इस्तेमाल कर पाता है जो कि लगभग 10% है कुछ ज्ञानी लोग 12% तक भी इस्तेमाल कर लेते हैं लेकिन बाकी का बचा 90% हिस्सा व्यर्थ हो जाता है । 

यानी हम उनका इस्तेमाल नहीं करते है । वही हिस्सा असीम शक्तियों का खजाना है । उसे आप subconscious mind Power कह सकते है । अवचेतन मन चेतन मन की हर बात को रिकॉर्ड रखता है । चाहे वो सपनो के रूप में क्यो न हो । अवचेतन मन सदैव क्रियाशील रहता है । आप जितना गहराई से सोचते है । जितना दृढ़ संकल्प या निश्चय रखते है उतना Active रहता है । 

क्योंकि अवचेतन मन एक उपजाऊ जमीन है जिस पर आप जैसा चेतन रूपी बिज को बोएंगे वैसा ही फल आने वाले समय में मिलेगा । यानी आप जैसा सोचेंगे वैसा ही subconscious mind Power आपको करके दिखाता है । अवचेतन मन आपका आज्ञाकारी है । आपके आदेश का पालन करता है । 

अवचेतन मन की शक्तियां - The power of subconscious mind.

अवचेतन मन की शक्तियों की बात की जाए तो इसके बारे में कुछ शब्दों में लिख पाना ये मुमकिन नहीं क्योंकि इसकी शक्तियां असीमित है । आप जो भी चाहे वो पा सकते हैं या प्रकृति से करवा सकते हैं बस आपको ये दृढ़ विश्वास के साथ सोचना है बस । ये सोचना आपका काम नही है कि क्या मुमकिन है क्या नही ये प्रकृति का काम है कि उसे ये काम कैसे करना है । 

आपने कभी सुना होगा कि किसी व्यक्ति ने अकेले ही पहाड़ तोड़कर रास्ता बनाया या फिर कि कोई व्यक्ति नुकीली कीलों के बिस्तर पर सोया और उसे कीले नही चुभी, कोई व्यक्ति आग पर चला लेकिन उसे कोई नुकसान नही हुआ, गर्म तेल में पकोड़े तलने वाले के बारे में भी जरूर सुना होगा लेकिन कभी इस बात को जानने की इच्छा हुई कि आखिर ये सब कैसे कर लेते हैं नही, क्योंकि हम सोचते भगवान ने उन्हें स्पेशल शक्ति दी है परन्तु ये गलत है ईश्वर ने हमे भी ये शक्ति प्रदान की है परंतु अभी तक हम अपनी शक्तियों से परिचित नही है और उन व्यक्तियों ने अपने अवचेतन मन की शक्तियों से ये कारनामे कर दिखाए। 

बड़े बड़े वैज्ञानिक से लेकर कुछ ऐसे डॉक्टर जिन्होंने वो कर दिखाया हो जो किसी ने सोचा भी ना हो अपने जीवन में वो अवचेतन मन की शक्तियों के कारण ही किया है ।

How to activate subconscious mind permanently 

Subconscious mind को हमेशा के लिए activate रखने के लिए लगातार अपने अचार - विचार पर ध्यान रखने की आवश्यकता है । क्योंकि आपके विचार, आपकी सोच किसी कार्य का होना या न होना मुख्य कारक होते है । इसी प्रकार subconscious mind को लम्बे समय तक सक्रिय रहने के लिए ये 4 fector काम करते है और यही activate होने के भी मुख्य सोर्स है -

  • इच्छा शक्ति - किसी कार्य को करने के लिए इच्छा शक्ति होने जरूरी है । इच्छा शक्ति शुरुआती कड़ी है ।
  • संकल्प शक्ति - संकल्प यानी दृढ़ निश्चय जो हर हाल में कार्य संपन्न करने के लिए प्रेरित करता है ।
  • भावना शक्ति - कार्य के प्रति सकारात्मक भाव, अच्छी सोच लगातार मन ही मन प्रेरित करती है ।
  • आत्म शक्ति - आत्म शक्ति यानी आत्मविश्वास मतलब की आप सही दिशा में बढ़ रहे है । यदि आप के पास ये चारों फेक्ट सही तरीके से काम करते है तो लम्बे समय तक subconscious mind Power को सक्रिय रखकर मन चाह लाभ प्राप्त कर सकते है । आप अपनी Life change कर सकते है ।

How to Activate subconscious mind

अवचेतन मन को कैसे जगाए ? How to Activate subconscious mind.

चेतन मन के बारे में तो हम सभी जानते हैं इसका इस्तेमाल रोज की दिनचर्या में किया जाता है पढ़ना, लिखना, खेलना, भोजन करना आदि कोई भी काम जो आप करते हैं रोजमर्रा के जीवन में वह चेतन मन के जरिए ही करते हैं, लेकिन ये कम लोग ही जानते होंगे कि हमारे पास एक और माइंड है जो कि हमारे भीतर ही मौजूद हैं लेकिन हमें इसका ज्ञान नही है उसे कहते हैं अवचेतन मन ( subconscious mind Power )।

 अवचेतन मन से आप जो चाहे वो कर सकते हैं मतलब मनचाहा काम लेकिन इसकी एक प्रक्रिया है जिसके तहत आपको गुजरना होगा। एक उदाहरण के तौर पर अगर आप रोज ये बात अपने बच्चे के मन मे छोटे से ही डाल देंगे कि वो बहुत कमजोर है और साइकिल नही चला सकता तो धीरे धीरे उसके अंदर ये भावना आ जायेगी कि वो दुनिया का सबसे कमजोर बच्चा है जो कभी साइकिल नहीं चला सकता और उसका चेतन मन इस बात को स्वीकार कर लेगा साथ ही ये बात उसके अवचेतन मन में भी बैठ जाएगी कि वह कभी साइकिल नही चला सकता है क्योंकि हम जो सोचते हैं उसे आकर्षित करते हैं एक friquency हमारे दिमाग से निकल कर प्रकृति को यह संदेश देती है कि यह काम होना है या नही होना है बस फिर प्रकृति उसमे जुट जाती है। 

दुनिया का कोई भी काम को सम्भव किया जा सकता हैं परन्तु इसके लिए आपको सकारात्मक सोच रखनी होगी सिर्फ सकारात्मक सोच अगर आपके मन में 2% भी नकारात्मक विचारों का आगमन हुआ तो आपकी सकारात्मक सोच वही उनका कोई मूल्य नही होगा । अवचेतन मन को जगाने के बहुत सारे योग है जिन्हें आप रोजमर्रा के जीवन में भी कर सकते हैं और आपको बहुत लाभ मिलेगा । तो चलिए subconscious mind power को कैसे जगाए -

थर्ड आई चक्र को एक्टिवेट कैसे करे

सोच की प्रवृत्ति को बदले - सोच आपकी कार्य प्रकृति का आपकी सोच हर वक़्त इस प्रकृति को संदेश देने का कार्य करती है इसलिए हमेशा सकारात्मक सोच रखें और दिल से खुश रहें जब आप पोसिटिव सोच रखते हैं तो प्रकृति आपकी पॉजिटिविटी को अनुभव कर लेती है और उसी का अनुसरण करती है।

ध्यान लगाएं - नकारात्मक विचारों से छुटकारा पाने का एक अचूक व सटीक उपाय है ध्यान। ध्यान आपके अंदर एक ऊर्जा को प्रवाहित करती है जिससे आप अपने लक्ष्यों पर केंद्रित हों पाते हैं। ध्यान आपके मस्तिष्क को शांति प्रदान करने में मदद करता है जिससे फालतू के विचारों का आपके मस्तिष्क में आगमन नही हो पाता और सकारात्मक विचारों का प्रवाह होता है।

अफेरमेटिव थॉट्स ( Affirmetive thoughts ) - सुबह उठने के तुरंत बाद या रात में सोने से पहले अफेरमेटिव थॉट्स को दोहराएं 2 मिनट ध्यान की मुद्रा में बैठें फिर जो भी इच्छा हो उसे अनुभव करें मान लीजिये आपको घर चाहिए तो आप ध्यान में अनुभव कीजिये कि आपको घर की चाबी मिल गई आप घर का दरवाजा खोल रहे है उसे सजा रहें है । अपनी फैमिली के साथ घर में समय बिता रहे हैं। 

ये बहुत ही सुखद अनुभव होता है और आप सोच में इतने डूब जाते हैं कि आप को सच में अनुभव होने लग जाता है कि आपको वो चीज़ मिल गयी और खुशी का अनुभव मिलता है। इस क्रिया को दिन में 2 बार अवश्य करें और हो सके तो 3 से 4 बार भी कर सकते है ।

अफेरमेटिव थॉट्स को लिखे - आप अवचेतन मन में ककी बात बिठाने के लिए आप थॉट्स को एक डायरी या कॉपी में कम से कम 20 बार जरूर लिखें ये काम आपको लगातार कम से कम 1 माह तक करना होगा तब आप पोसिटिव सोच को ला सकते है। उदाहरण के लिए- अगर आप अच्छी पढ़ाई चाहते है तो रोज लिखे मुझे पढ़ाई में सफल होना है या मुझे 95% मार्कस मिले है हर चीज को पास्ट टेंस मैं लिखना होगा कि वो चीज़ आपको मिल रही है या मिल चुकी है। 

कहते है अच्छी सोच ही आपको सफल बनाती है तो हमेशा सकारात्मक सोच रखनी चाहिए ताकि जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता रहे और इन सभी क्रियाओं को धैर्यता के साथ समय देकर करना पड़ता है। जैसी सोच वैसा जीवन पर प्रभाव । यह सब  subconscious mind power से होता है ।

मोनिका गुप्ता

Post Navi

एक टिप्पणी भेजें

2 टिप्पणियाँ

Ad Code