Ad Code

Ticker

6/recent/ticker-posts

हाइकु क्या है, Haiku kaise likhe in hindi.

हाइकु क्या है, Haiku kaise likhe in hindi.


Haiku kaise likhe in hindi.


Sahitydrshan में आपका हार्दिक अभिनंदन है । मित्रों आज हम साहित्यिक विधा Haikoo के बारे में बताने जा रहे है । हाइकु एक जापानी विधा है जो 5-7-5 वर्णों पर लिखी जाती है । अब यह विद्या भारत में भी बहुत लोकप्रिय हो गई है । हालांकि सिर्फ 5-7-5 वर्णो में लिखी गई किसी भी रचना को हम हाइकु नहीं कह सकते । तो चलिए जानते है हाइकु क्या है ? Haikoo kaise likhe -


हाइकु क्या है । What is haiku in hindi.

Haiku मूलतः जापानी संस्कृति की कविता है । जिसे केवल तीन लाइन में लिखा जाता है । कम से कम शब्दों में कही जाने वाली एक ऐसी साहित्यिक विधा है जिसमे वर्ण तो गिना जाता है मगर ध्वनि को नहीं गिना जाता है । इस कविता की तीनों लाइन 5 - 7- 5 वर्ण की होती है ।

Haikoo ke niyam - 

  • दो वाक्य एवं दो पूर्ण स्पष्ट बिम्ब में कम से कम एक बिम्ब में प्राकृतिक स्वरूप का होना अनिवार्य है।
  • वर्तमान काल आधारित दो वाक्य, पांच में विषय और बारह में बिम्ब वर्णन हो सकता है।
  • दो वाक्य एक दूसरे के विपरीत हो सकते है । 
  • स्पष्ट एवं तुलनात्मक होना कोई अनिवार्य नहीं है । 
  • केवल कल्पना व मानवीयकरण न हो ।
  • एक पल की अनुकृति, फोटो क्लिक हो ।
  • कटमार्क के रूप में दो वाक्यों का विभाजन चिन्ह हो ।
  • किसी 2 वाक्यो का सृजन इस प्रकार से हो जो एक दूसरे के पूरक न होकर कारण और फल न बने।
  • रचना में किसी भी प्रकार से बिम्ब या शब्दों का दोहराव न हो।
  • केवल तुकबंदी न करे ।
  • यह है कि पांच वाले हिस्से में क्रियापद एवं विशेषण न हो।
  • बारह ( 12 ) वाले हिस्से में केवल एक वाक्य हो ।
  • ध्यान रखें की बिना किसी बिम्ब के केवल वर्तनी न हो।
  • पंक्तियाँ पूर्ण रूप स्वतंत्र न हों।
  • Haikoo विधा प्रकृति मूलक है न किसी धर्म या व्यक्ति विशेष हो । 


हाइकु सृजन की सरल एवं आसान विधि

Step - 1. एक पूर्ण वाक्य -
किसी प्रकार के दृश्य को देखते हैं या आप उनकी कल्पना करना चाहते हैं तो उसे 5 या 12 वाले भाग में से किसी एक भाग में रखें।

Step 2. - द्वितीय वाक्य
पहले वाक्य से सम्बंध में और उस दृश्य के करीब किसी विचार को स्पष्ट शब्दों में रखें जो कि संवेदनशील बन जाए। प्रथम 5 वाला भाग निर्मित हुआ हो तो यह वाक्य 12 वाले भाग में सृजन करें । 

Step 3.  उपरोक्त दो वाक्य पूर्ण होने के बाद दोनों वाक्यों को ध्यान से पढ़िये। कही ऐसा न हो कि वर्ण या बिम्ब के दोहराव हो रहे हों या एक में कारण बनकर दूसरे में फल बन जाएँ।

Step 4. - विधि 3 में सफलता मिल गयी हो तो उक्त दोनों वाक्यों के बीच कटमार्क लगाकर आपस में जोड़कर देखे ।

Step 5. - विधि 4 पूर्ण होने के बाद आपके दोनों वाक्यों को 5-7-5 की तीन पंक्तियों में विभक्त कर लें और ध्यान दें कि आपके 3 पंक्तियाँ कहीं स्वतंत्र तो नही है और यदि पंक्तियां स्वतंत्र है तो उसमे सुधार अवश्य करे ।

Step 6. - उपरोक्त सभी प्रक्रिया पूर्ण होने पर पटल की रीत को ध्यान में रखते हुए रचना का पूर्ण अवलोकन करें। यदि आपकी रचना आपको पूर्णतया संतुष्ट करे तो बिल्कुल वह एक हाइकु है।


Haiku kaise likhe -

विधि 1 के तहत् -

एक वाक्य में 12 वर्ण के हिस्से में इस तरह रखना है जैसे - लुहार के आवे में सुस्की की गंध |

अब हम विधि 2 के तहत् उपरोक्त 12 वाला भाग से सम्बंधित कुछ ऐसे वाक्य रखें कि किसी मन को छू जाए और वह 5 वर्ण में हो। हम उस दृश्य के आसपास संबंधित दृश्य या उस समय को लेते हैं सुस्की की गंध दोपहर को आ रही थी अत: दूसरा बिम्ब  मध्यान्ह काल लेते हैं ।

मध्यान्ह काल


अब विधि 3 के अनुसार वाक्य आंकलन करने के लिए दोनों वाक्यों को एक साथ रख लेते हैं जैसे -

लुहार के आवे में सुस्ती की गंध

मध्यान्ह काल

वाक्य में न कोई बिम्ब और न ही कोई वर्ण का दोहराव है। न एक में कारण है न दूसरे में फल । अर्थात् विधि 3 पर खरी है हमारी कृति।

यदि आपके विचार में पहले 5 वाला हिस्सा आ जाए तो हो सकता है इसके विपरीत भी बन सकता है जैसे -


मध्यान्ह काल

लुहार के आवे में सुस्की की गंध


आगे...

विधि 4 के अनुसार अब दोनों वाक्यों के मध्य कटमार्क लगा देते हैं ।

लुहार के आवे में सुस्की की गंध ~

मध्यान्ह काल


विधि 5 के अनुसार 5-7-5 के वर्ण पर विभक्त करते हैं जैसे -

सुस्की की गंध

लुहार के आवे में ~

मध्यान्ह काल


विधि 5 के अनुसार पंक्तियाँ पूर्ण स्वतंत्र न हो। हालांकि 12-5 के दो वाक्यों के हिस्से होते हैं जिस पर रचना खरी है। 

पद्धति 6 के अनुसार हम पटल के नियमों में हमारी रचना ढल पायी है या नही । इनका आंकलन करने पर ज्ञात होता हैं कि हमारी रचना सभी नियमो के अनुरूप है। अतः यह एक हाइकु है।


Haiku ke udaharan

समुद्र तल ~
रंगीन शैवालों के
बीच कैमरा ।

स्कूल प्रांगण ~
समारोह में फैली 
गेंदे की गंध ।

अंधेरा कक्ष ~
रवि रश्मि झिरी से
दर्पण पर ।

शीत लहर ~
सीमा पे बेटा खाता
तिल का लड्डू ।

काष्ठ में छेद ~
भ्रमर के पंजे में 
भाजी का कीड़ा ।

होरा की गंध ~
बाला के अधर पे
लगा कोयला ।

बेर सुगंध ~
वृद्ध की पीठ पर
रीछ का वार ।

मध्यान्ह काल ~
लुहार के आवे में
सुस्की की गंध ।

समुद्र तल ~
रंगीन शैवालों के
बीच कैमरा ।

पौष की वर्षा ~
चाय की केतली में 
गिरी मक्षिका ।

कुहू के स्वर ~
आम की केरी पर
नमक मिर्ची ।

ब्रह्ममुहुर्त ~
लैम्प रश्मि में टाँके
माँ यूनीफार्म ।


अपनी बात - मित्रो ये जरुरी नहीं हैं कि कृति में कोई दृश्य के साथ अनुभव ही हो । यह भी हो सकता है दो साधारण दृश्य भी हों जो ऐसा दृश्य हो कि उसमें कोई विशेष तथ्य छिपा हो जिसके पठन से पाठक को स्वतः ही उस विशेष तथ्य की अनुभूति (आह या वाह ) का दर्शन प्राप्त हो। ऐसी भी कृति की जा सकती है ।। सुकमोती चौहान 'रुचि' ।।


FAQ

Q. 1. हाइकू कविता किस वर्ण के ढांचे में लिखी जाती है ?
जबाब - सबसे छोटी कविता के रूप में हाइकू में कुल 17 वर्ण होते है । जिसमे पहली व तीसरी पंक्ति में 5 एवं दूसरी में 7 वर्ण होते है ।

Q. 2. हाइकु का सरल अर्थ क्या है ?
जबाब - हाइकु सबसे छोटी कविता है जो नपे तुले शब्दों में लिखी जाती है । 

Q. 3. हाइकु में कितनी पंक्तियां होती है ?
जबाब - हाइकू में केवल 3 पंक्तियां होती है ।

Q. 4. हाइकु में प्रयुक्त कौनसा महीना होता है ?
जबाब - हाइकु किसी महीना या ऋतु पर आधारित नहीं होता है । केवल वर्तमान आधारित होता है ।

Q. 5. हाइकु किस देश की विधा है ?
जबाब - हाइकु मूलतः जापानी विधा है । 

Q. 6. हाइकु क्या है ?
जबाब - हाइकू चरम क्षण की एक ऐसी कविता है जिसमें सौंदर्य या भावात्मक दृष्टि से चरम अनुभूति में चिंतन - मनन, विचार एवं निष्कर्ष की प्रक्रिया का भेद मिट जाता है ।

Q. 7. हाइकु का विषय क्या है ?
जबाब - हाइकु का विषय प्रकृति है ।


Read more 

छप्पय छंद की परिभाषा, विधान एवं उदाहरण

रास छंद की परिभाषा, विधान एवं उदाहरण

Hindi Chhand जानिए भारती छंद कैसे लिखे


Post Navi

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ

Ad Code