Ad Code

Ticker

6/recent/ticker-posts

5G क्या है एवं इंडिया में कब आएगा । 5g technology in hindi.

5G क्या है एवं इंडिया में कब आएगा । 5g technology in hindi.


5G technology in hindi.


5G technology in hindi. मोबाइल नेटवर्क की दुनिया में 2G, 3G एवं 4G के बाद अब 5G की चर्चा जोरों पर है । जी आज दुनिया भर का सबसे चर्चित विषय रहा है । हर 10 साल में एक नई mobile technology आ जाती हैं जो mobile technology को नई शिखर पर पहुचा देती हैं । 5G network उनमें से एक है । 5जी लॉन्च होने के मोबाइल नेटवर्क की स्पीड तेज हो जाएगी । यानी आज किसी भी एप/मूवी/गेम को डाऊनलोड करने में समय लग है । 5G के बाद बहुत ही कम समय मे डाउनलोड हो जायेगा । 

कभी फोन वायर से जुड़े हुए थे मगर वायरलेस मोबाइल फोन आ गए है ये सब टेक्नोलॉजी का कमाल है । यह टेक्नोलॉजी आज 4G तक का सफर तय कर चुकी है । आने वाले कुछ समय में 5G Technology in India in hindi. का दौर शुरू होने वाला है । इनका सबसे बड़ा फायदा यह मोबाइल इंडस्ट्री में तरक्की होने वाली है । वही कुछ नुकसान भी हो सकते है तो चलिए जानते है 5G network kya hai -

Also read 

आईपीओ में निवेश कैसे करें । IPO full form in hindi

मोबाइल फोन से Video editing कैसे करें 

5G नेटवर्क क्या है ? What is 5G technology in hindi ?

5G मोबाइल नेटवर्क की पांचवीं पीढ़ी है जिसका अर्थ Fifth generation है । यह एक ऐसी Wireless network technology है जिससे नेटवर्क की स्पीड को बढ़ाया जा सकता है । इससे broadband connections से लगभग 20 Gbps से भी ज्यादा स्पीड में transmit किया जा सकता है । 

5G नेटवर्क टेक्नोलॉजी का एक ऐसा आयाम है जो आपके फोन/कंप्यूटर के इंटरनेट की स्पीड में तेजी लाएगा । यह नेटवर्क एंड्रॉयड स्मार्टफोन, आईफोन एवं कंप्यूटर के लिए कार्य करता है । 5G तकनीक एक सफलता है अगली पीढ़ी के दूरसंचार नेटवर्क पांचवीं पीढ़ी या 5g ने 2018 के अंत में बाजार में प्रवेश करना शुरू कर दिया है और दुनिया भर में विस्तार करना जारी रखेगा । 

गति में सुधार से परे, प्रौद्योगिकी से बड़े पैमाने पर 5g इंटरनेट ऑफ थिंग्स इकोसिस्टम ( IOT ) को मुक्त करने की उम्मीद है जहां नेटवर्क गति, विलंबता और लागत के बीच सही व्यापार बंद के साथ अरबों जुड़े उपकरणों के लिए संचार आवश्यकताओं की पूर्ति कर सकता है।


5G Technology कैसे काम करता है ?

5G Wireless networks है जिसमें मुख्य रूप से cell sites होते हैं जिन्हें अलग अलग भागो में विभाजित किया जाता है । जो radio waves के द्वारा डेटा भेजने का कार्य करते है ।  यह 4G ( LTE ) यानी Long-Term Evolution की wireless technology से ही 5G foundation की उत्पत्ति है ।

4G के बड़े बड़े हाई पॉवर वाले cell towers की आवश्यकता होती है जो लम्बी दूरी के सिग्नल्स को radiate करने में सपोर्ट करते थे वही से 5G signals को transmit करने के लिए छोटे छोटे cell stations की आवश्यकता होती है जिन्हें लाइट पोल्स के रूप में लगाया जा सकता है ।

5G high speed की आवश्यकता होती है इसलिए  multiple small cells का इस्तमाल होता है । वो इसलिए कि ये millimeter wave spectrum में होता है जो कि  band of spectrum हमेशा 30 GHz से 300 GHz के भीतर ही होती है ।  5G technology में spectrum की lower-frequency  का उपयोग होता है जो ज्यादा दूरी में भी बेहतर कवरेज देती है ।

किस देश में 5G नेटवर्क है ? 

दक्षिण कोरिया वह देश है जिसने पहले 5g नेटवर्क को तैनात किया था और उम्मीद है कि 2025 तक प्रौद्योगिकी की पहुंच के रूप में अग्रणी रहेगा। दक्षिण कोरिया में लगभग 60% मोबाइल सब्सक्रिप्शन 5G नेटवर्क के लिए होने की उम्मीद है।

  

5G इंडिया में कब आयेगा ? 5G network launched in India

सबको पता हैं कि, 5 जी क्या हैं ? पर आपको 5 जी के बारे में कुछ ऐसी बाते नहीं पता हैं जो कि Top secret है Just kiding ऐसा कुछ secret नहीं है । 5G की Internet speed कितनी होगी और 5G कौनसे मोबाईल पर चलेगा ? आखिर में 5 जी को India में लाने के पिछे India में  बहोत बडी problem जिसको Disolve करने के बिना 5G भारत में लाना its just impossible.

यह जो 5G है वो high frequency पर काम करेगा जो की होगी 3.5 GH से 26 GH तक इस frequency ban में view length काफी छोटे होते हैं जिस के वजह से उनको आसानी से रोका जा सकता है । यह ऐसी problem है जिसको fix करना काफी जरुरी है । इस problem को fix करने के लिये हमे कम उचाई वाले telephone towers लगाने पडेंगे । जो कि एक दुसरे से काफी करीब होंगे । इसके लिये transmitter लगाने होंगे जिसकी वजह से खर्चा काफी  बढ जायेगा ।


5G service in India 

4G ने Internet की रफ्तार बढाई है आज हर हाथ में मोबाइल है ऐसे में 5G की चर्चा तेज हैं । अब सवाल है कि भारत में 5G की शुरुआत कब होगी ? इस सवाल का जवाब का इंतज़ार हम सभी को हैं । भारत सरकार दूरसंचार कंपनियों से आने वाले स्वतंत्रता दिवस ( 15 Aug 2022 ) पर सिमित इलाको और शहरों में 5G सेवा शुरु करने की योजना बना रही है । भारत सरकार ने दूरसंचार कंपनियों को आश्वस्त किया हैं कि 5G spectrum की निलामी April - May तक हो जायेगी और सेवा शुरु करने के लिये उन्हे 3-4  महिने का समय मिलेगा ।

दूरसंचार  फम्स 5G परीक्षण के माध्यम से अपने 5G नेटवर्क की क्षमता को आजमा रही हैं । अभी तक भारती Airtel ने Nokia के साथ मिलकर 700 बैंड पर 5G का सफलता पूर्वक परीक्षण किया हैं । यह परीक्षण कोलकाता के बाहरी इलाके में किया गया है । वही vodafone, Idea भी पुणे में परीक्षण कर सकती है और इसके लिये उसने एरिक्सन के साथ साझेदारी की हैं ।


5G technology के फीचर्स कौन कौनसे है ? 5G Advanced Features in hindi.

ऐसा माना जा रहा है कि वर्ष 2030 तक बिलियनों के खर्च पर दुनिया के अधिकतर देशो में 5G नेटवर्क उपलब्ध हो जायेगा । जिनके बहुत सारे Features है जैसे -

  • 5G की सुपर स्पीड 10Gbps
  • End-to-end round trip में 1 millisecond की Latency.
  • 10 से 100 डिवाइस की कनेक्टिविटी
  • वर्ल्डवाइड कवरेज
  • मोबाइल बैटरी की सुरक्षा 90% तक एनर्जी रिडक्शन ।
  • Wifi zone के रूप में होगा विकसित ।

5G technology Advantages in hindi.


5G technology से क्या फायदे है । 5G technology Advantages in hindi -

वैसे 5G के ओ बहुत सारे advantages हैं, इसलिए मैंने उनके विषय में निचे आप लोगों को बताने के कोशिश करी है –

● 5G technology के द्वारा सभी नेटवर्क को एक ही प्लेटफार्म पर उपलब्ध कराया जाएगा ।
● अपलोडिंग एवं डाऊनलोडिग तेजी से होगा ।
● आप दुनिया के किसी भी कोने में बैठकर ज्ञान अर्जित कर सकते है यानी विधार्थियो के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी ।
● 5G से बेहतर मोनिटरिंग कर सकते है जिसे अपराध दरों को कम कर सकते है ।
● अंतरिक्ष की घटनाओं को आसानी से देखा जा सकता है । साथ ही साथ मौसमिय जानकारी को सटीकता से प्राप्त किया जा सकता है ।
● 5G से  broadcasting data यानी in Gigabit बड़े पैमाने पर हो सकती हैं, जिससे ये 60,000 से अधिक connections सपोर्ट करते है ।
● मेडिकल ट्रीटमेंट के 5G तकनीक उपयोगी साबित हो सकती है क्योंकि इससे डॉक्टर्स दुनिया के किसी भी कोने में मरीज को ट्रीटमेंट दे सकते है । 
● 5G technology बहुत ज्यादा एडवांस एवं चारो तरफ नेटवर्क उपलब्ध होगा । जिसे किसी कार्य को करना बहुत ही आसानी होगी । 


5G network से क्या नुकसान है । 5G Dis-Advantages in hindi -

5G technology के जहां फायदे हैं वही नुकसान भी है । क्योंकि यह Advance technology है । इसे researched और conceptualized तरीके से निर्माण किया गया है । इनकी तरंगे समस्या पैदा कर सकती है । इनकी स्पीड को कवर करना काफी मुश्किल होगा । इतना ही आर्थिक रूप से भी व्यय भी अधिक होगा क्योंकि बड़े बड़े high cell वाले टावर लगाने की आवश्यकता होगी ।

अंतिम शब्द - 5G अभी तक under process है । इस पर अभी भी research की आवश्यकता है । सम्भावना यही है कि वर्ष 2030 तक दुनिया के अधिकतर देशो में उपलब्ध हो जायेगा । लेकिन यह बात तो तय है कि 5G technology से पूरी दुनिया हाई स्पीड से वायरलेस बन जाएगी । तो उम्मीद करते है आज लेख 5G technology in hindi आपको पसंद आया होगा ।। अभिलाषा देशपांडे ।।

Post Navi

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Ad Code